Jeevan Ka Pehla Pyar shayari: first love in life, पेहला प्यार शायरी 22

Jeevan Ka Pehla Pyar shayari : first love in life, पेहला प्यार शायरी. jeevan ka pehla pyar shayari first love in life. jeevan ka pehla pyar shayari first love in life in hindi. zindagi ka pehla pyar shayari first love in life in english. मेरी जिंदगी का पहला प्यार हो तुम शायरी. दो प्यार करने वालों की शायरी. पहला प्यार शायरी English. बेइंतहा प्यार शायरी.

 

Jeevan Ka Pehla Pyar shayari

 

 

दिल की आवाज़ अब हमें सुनाई देने लगी,

हर लम्हे में तु बस तु दिखाई देने लगी,

ये क्या हुआ हमको हम खुद ही नहीं जानते,

क्यों हर दुआ में तेरा नाम और चाहत बस तेरी होने लगी..

 

Dil ki aawaaz ab hame sunaai dene lagi,

Har lamhe mein tu bas tu dikhaai dene lagi,

Yeh kya hua hamko  hum khud hi nahi jaante,

Kyon har dua mein tera naam aur chaht bas teri hone lagi..

 

****

दिल कि हसरत जुबां पर आने लगी

तुमको देखा और ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी

यह दोस्ती कि इंतेहा है या मेरी दीवानगी

हर सूरत में तेरी सूरत नज़र आने लगी..

 

Dil ki hasrat jubaan par aane lagi

tumko dekha aur zindagi muskurane lagi

yeh dosti ki inteha hai ya meri diwaangi

har surat mein teri surat nazar aane lagi..

****

Jeevan Ka Pehla Pyar shayari
  • Save

 

first love in life

 

हज़ारो चहरे है इस दुनिया में मगर हमे सिर्फ,

तेरा ही चहरा नज़र आता है,

प्यार करने वाले तो वैसे बहुत मिल जाते है,

मगर तुम्हारे सिवा मुझे कोई और भाता नही है..

 

Hazaron chahra  hai is duniya mein

Magar hame sirf tera hi chahra nazar aata hai,

Pyar karne wale to Waise bahut mil jaate hai,

Magar tumhre Siwa mujhe koi aur bhata Nahi hai….

****

धड़कते हुए दिल का करार हो तुम,

इन सजी महफिलों की बहार तो तुम,

तरसती हुई निगाहों का इंतज़ार हो तुम,

मेरी जीवन का पहला प्यार हो तुम..

 

Dhadkate Hue Dil Ka Qaraar Ho Tum,

In Sazi Mehfilon Ki Bahaar Ho Tum,

Tarasti Hui Nigaahon Ka Intezaar Ho Tum,

Meri Jeevan Ka Pehla Pyar Ho Tum..

****

पहली-पहली सी मुलाक़ात थी,

पहली-पहली सी बात थी,

बात क्या करते कुछ खबर ही ना थी,

शायद यही पहले प्यार की पहली शुरूआत थी..

****

पेहला प्यार शायरी

 

तुझको अपना दिल दे बैठा हूँ, 

प्यार का इन्तेहान दे बैठा हूँ,

इस धड़कते दिल की कसम,

तेरे खातिर ये जान दे बैठा हूँ..

 

Tujhko apna dil de baitha hoon

pyar ka intehan de baitha hoon

is dhadakte dil ki kasam

tere khatir ye jaan de baitha hoon..

****

Jeevan Ka Pehla Pyar shayari
  • Save

 

Meri har dua mein shamil tum hone lage,

Meri har udasi me khushiya tum bane ne lage,

Hawa se bhujte diye ki tarha thi zindagi hamari

Tum aye or jeene ki wajha banne lage..

****

बेइंतहा प्यार शायरी

 

खूबसूरत सा एक पल किस्सा बन जाता है,

जाने कब कौन ज़िंदगी का हिस्सा बन जाता है,

कुछ  लोग ज़िंदगी में मिलते हैं ऐसे,

जिनसे कभी ना टूटने वाला रिश्ता बन जाता है..

 

****

रात आँखों में ढली पलकों पे जुगनूँ आए

हम हवाओं की तरह जाके उसे छू आए

बस गई है मेरे अहसास में ये कैसी महक

कोई ख़ुशबू में लगाऊँ तेरी ख़ुशबू आए..

****

मेरी जिंदगी का पहला प्यार हो तुम शायरी

 

छोंड़ गए हमको वो अकेले ही राहों में,

चल दिए रहने वो गैर की पनाहों में,

शायद मेरी चाहत उन्हें रास नहीं आयी,

तभी तो सिमट गए वो औरों की बाँहों में..

****

कितनी मोहब्बत है तुमसे कैसे बताये

कितना प्यार है तुमसे कैसे बताये

कितना इश्क़ हो गया है कैसे बताये

बस मेरी जान ये समझलो के जीने लगे हैं फिर से..

****

Jeevan Ka Pehla Pyar shayari

 

मेरी आँखों में एक हसीं ख्वाब सजा दे,

देख के मुझे तू एक बार मुस्कुरा दे,

तक़दीर बदल जाएगी अपनी,

अगर खुदा तुझे इस जन्म में मेरी जान बना दे..

 

Meri Ankho Mein Ek Haseen Khwab Saza De,

Dekh Ke Mujhe Tu Ek Baar Muskura De,

Taqdir Badal Jayegi Apni,

Agar Khuda Tujhe Ish Janam Me Meri Jaan Bana De..

****

Jeevan Ka Pehla Pyar shayari
  • Save

 

तुम्हारी हंसी से चाँद भी शरमा गया,

तुम्हारी खुशबू से फूल भी मुरझा गया,

किस जहाँ से आये हो तुम…

जो देखते ही मुझे तुमपे प्यार आ गया..

 

Tumhari Hasi Se Chand Bhi Sharmaa Gaya,

Tumhari Khushbu Se Phool Bhi Murjha Gaya,

Kis Jahan Se Aaye Ho Tum.

Jo Dekhte Hi Mujhe Tumpe Pyaar Aa Gaya…

****

Jeevan Ka Pehla Pyar shayari 2022

 

Jeevan ka pahla pyar kaun bhulta hai

Ye pahli bar hota hai jab koi kisi ko

Khud se badhkar chahta hai,

Uski pasand uski khwahish me khud ko bhul jaata hai,

Hota hai itna khubsurt pehla pyar to na jaane,

Kyun  aksar adhura rah jaata hai…

****

0 Shares

Leave a Comment

0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap